आरजेडी के खिलाफ सड़कों पर उतरे शहाबुद्दीन समर्थकों ने फूंका पूतला, लालू-तेजस्वी के उड़े होश

0
6

सिवान: बिहार के पूर्व बाहुबली सांसद और आरजेडी नेता मोहम्मद शहाबुद्दीन के निधन के बाद बवाल जारी है. बाहुबली के निधन के बाद आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव की ओर से जो व्यवहार किया गया, उससे शहाबुद्दीन साहब के समर्थकों में काफी नाराजगी है. तेजस्वी यादव और लालू यादव के खिलाफ सिवान में जगह-जगह पर उनके पुतले जलाए जा रहे हैं.

सोमवार को सिवान के बड़हरिया प्रखंड स्थित लकड़ी दरगाह के पास शहाबुद्दीन के समर्थकों ने आरजेडी चीफ लालू यादव और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए उनका पुतला दहन किया. उनके पुतले की चप्पलों से पिटाई भी की. इस दौरान समर्थकों ने पूरे लालू परिवार के खिलाफ नारेबाजी की. साथ ही शहाबुद्दीन अमर रहे का भी नारा लगाया.

शहाबुद्दीन के अंतिम संस्कार को लेकर विवाद

बता दें कि बिहार के सिवान से सांसद रह चुके आरजेडी के बाहुबली नेता मोहम्मद शहाबुद्दीन का दिल्ली के डीडीयू अस्पताल में 8 अप्रैल की सुबह निधन हो गया था. दिल्ली के तिहाड़ जेल से कोरोना संक्रमित होने के बादइलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उनका निधन हो गया था. शहाबुद्दीन के समर्थक चाह कर भी कोरोना संक्रमित होने की वजह से उनके पार्थिव शरीर को बिहार नहीं ला सके. इस को लेकर काफी विवाद हुआ.

ये भी पढ़ेंः शहाबुद्दीन के बेटे ओसामा से बाहुबली विधायक रीतलाल यादव ने की मुलाकात, पर अब तक नहीं पहुंचा लालू परिवार से कोई…

शहाबुद्दीन के बेटे ओसामा साहब अकेले ही दिल्ली में परिस्थिति से निपटने रहे लेकिन पार्टी के कोई नेता दिल्ली नहीं पहुंचा. दिल्ली में रहने के बावजूद तेजस्वी यादव भी नहीं पहुंचे थे. शहाबुद्दीन की पत्नी हिना शहाब भी इस बात से काफी नाराज बताई जा रही हैं. यही वजह है कि बिहार लौटने के बाद भी वे पार्टी के नेताओं से नहीं मिल रहीं हैं. स्थानीय विधायकों के

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here