समाजसेवी बाबा आमटे की पोती और सामाजिक कार्यकर्ता डॉ शीतल आमटे-करजगी ने सोमवार को आत्‍महत्‍या कर ली है. महारोगी सेवा समिति (कुष्‍ठ सेवा समिति), वरोरा की सीईओ शीतल आमटे ने आनंदवन स्थित निवास पर जहरीला इंजेक्‍शन लगाकर खुदकुशी कर ली. इसकी जानकारी मिलते ही तुरंत अस्‍पताल पहुंचाया गया लेकिन डॉक्‍टरों ने उन्‍हें मृत घोषित कर दिया.

Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

महाराष्‍ट्र टाइम्‍स के अनुसार कुछ दिनों से  शीतल तनाव में थी. उन्‍होंने आनंदवन के कुष्‍ठ सेवा समिति में चल रहे कामकाज, ट्रस्‍टी और कार्यकर्ताओं पर एक फेसबुक लाइव के जरिए गंभीर आरोप लगाए थे. हालांकि, दो घंटे बाद ही वह फेसबुक लाइव डिलीट कर दिया गया। इस फेसबुक लाइव के बाद काफी बहस हुई और बाद में आमटे परिवार की ओर से एक बयान जारी करके इन आरोपों से इनकार किया गया.

ये भी पढ़ेंः सीएम नीतीश कुमार ने दिया बिहार को बड़ा तोहफा, पटना में दीघा-एम्स रोड पर फर्राटा भरेंगी गाड़ियां

लेकिन कुछ लोगों का कहना हा कि पारिवारिक मसले पर शीतल आमटे ने आत्महत्या कर ली है. मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच शुरू कर दी है. सोमवार की सुबह उन्‍होंने अपने ट्विटर हैंडल से ‘वॉर ऐंड पीस’ नाम की एक पोस्‍ट की थी.  शीतल आमटे को जनवरी, 2016 में विश्व आर्थिक मंच द्वारा ‘यंग ग्लोबल लीडर 2016’ के रूप में चुना गया था.

Get Daily City News Updates

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here