0Shares

Smart Class Of Bihar : कहते हैं जैसा गुरू वैसा चेला। मतलब गुरू के दिखाये रास्ते पर ही विद्यार्थी चलते हैं, अब चाहे वो रास्ता सही हो या गलत। बिहार मे शिक्षा व्यवस्था को बेहतर करने हेतु राज्य सरकार कई कदम उठा रही है। स्मार्ट क्लास से लेकर विद्यार्थियों को पुस्तकों के लिये रूपये भी अब सरकार देने वाली है। ऐसे में अगर राज्य सरकारी की इन सुविधाओं का विद्यालयों के शिक्षक या विद्यार्थी गलत इस्तेमाल करें, तो क्या हो?

राज्य सरकार ने प्रदेश के सभी हाई और मिडिल स्कूलों में बेहतर पढ़ाई के लिए स्मार्ट क्लास की व्यवस्था की है और कर रही भी है। बच्चों को कंप्यूटर शिक्षा से जोड़ने के लिए स्कूलों में कंप्यूटर की व्यवस्था की गई है, लेकिन बिहार के विद्यार्थी और खुद शिक्षक इसका अलग ही इस्तेमाल कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर छपरा के एक सरकारी स्कूल का वीडियो वायरल हुआ है, जहां स्मार्ट क्लास में विद्यार्थी और शिक्षक साथ बैठकर अश्लील भोजपुरी गाना सुन रहे हैं।

Smart Class Of Bihar

Also Read : Employment in Bihar: बिहार में जल्द ही इन सेक्टर्स में होगी बंपर बहाली

Smart Class Of Bihar : टीचर भी पैर पर पैर चढ़ाकर गाने का मजा लेते रहे

यह वीडियो जिले के दरियापुर प्रखंड के बारवे परसौना पंचायत स्थित राम आशीष बिगणेश्वर हाईस्कूल का है, जहां स्मार्ट क्लास में भोजपुरी गाना ‘चिपके छिपकिली जैसे चिपके दीवार से…’ चलाया गया। भोजपुरी सॉन्ग क्लास में टीचर के सामने बजाया गया। टीचर भी पैर पर पैर चढ़ाकर गाने का मजा लेते रहे। इसी बीच किसी बच्चे ने इसका वीडियो बना लिया। जो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल होकर राज्य की शिक्षा व्यवस्था पर प्रश्न चिन्ह लगा रहा है।

अब सबसे बड़ा सवाल यह है कि आखिर सरकार ने तो अपनी तरफ से बच्चों के बेहतर पढ़ाई के लिए स्मार्ट क्लास की व्यवस्था कर दी है, लेकिन शिक्षक और विद्यार्थी मिल कर उसका कैसा उपयोग करते हैं, यह उन पर निर्भर है। उधर, दरियापुर के प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी ने बताया कि वायरल वीडियो संज्ञान में आया है। इसके बारे में जांच पड़ताल की जा रही है। जांच के बाद मामले में संलिप्त लोगों पर कार्रवाई की जाएगी।

Leave a comment

Your email address will not be published.