पिता ने पकड़ा बिस्तर तो 18 साल में लेडी किसान बन गई बेटी, खेती का तरीका देख अमेरिका से सीखने पहुंचे लोग

0
10

केंद्र सरकार के खिलाफ इस  समय किसान आंदोलन चला रहे हैं. किसानों पर खूब बात हो रही है. इस बीच एक बार फिर हरियाणा के अंबाला के अधोई कस्बा की रहने वाली अमरजीत कौर की चर्चा शुरू हो गई है. 29 साल की अमरजीत जब 18 साल की थीं तभी पिता बीमार हो गए. उनका परिवार खेती पर आश्रित था. ऐसे में अमरजीत ने खेत की जिम्मेदारी संभाली और परिवार को खर्च उठा रही हैं.
Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

अमरजीत की मेहनत का ही नतीजा है कि आज उनका भाई पढ़ पाया और वह सरकारी नौकरी में है. अमरजीत से गांव के किसान नसीहत मांगने आते हैं कि कब कौन सी फसल उगाई जाए और इसके लिए किस तरह से खेत का प्रयोग किया जाए.

2007 में बीमार हुए थे पिता

दिसंबर 2007 में अमरजीत के पिता बीमार हुए और बिस्तर पकड़ लिए. परिवार पर एक साथ कई संकट आ गए. ऐसे में अमरजीत ने खेती की जिम्मेदारी संभाली. वह सुबह 5 बजे उठकर खेत जाती और पशुओं का चारा डालती और फिर खेती में लगी रहती.

खुद से बीज बोती हैं अमरजीत

18 साल की उम्र से अमरजीत खुद फसल बोती हैं और उसके तैयार होने से लेकर कटाई तक का सारा काम करती-कराती हैं. इसके बाद काटकर खुद मंडी में ले जाकर बेचती हैं. लोग उन्हें ‘लेडी किसान’ कहते हैं.

पंजाबी में की मास्टर डिग्री

इन सबके बीच अमरजीत ने अपनी पढ़ाई भी जारी रखी और पंजाबी से मास्टर की डिग्री लीं. वह घर का भी सारा काम करती हैं. वह ट्रैक्टर भी चलाती हैं और पशुओं का चारा भी देती हैं. उन्होंने ऑर्गेनिक खेती भी शुरू की है.

यूएस डेलीकेट ने किया तारीफ

अमरजीत के काम को देखते हुए उनसे यूनाइटेड स्टेट अमेरिका का एक डेलिगेशन उसने मिलने आया और उनके काम की तारीफ की. इस डेलिगेट ने खेतों में डाले जाने वाले पेस्टिसाइड्स, बीज, फसल, मंडीकरण इन सबके बारे में जानकारी ली.अमरजीत से आसपास के लोग मशवीरा लेने भी आते हैं.
Get Today’s City News Updates

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here