पटना. बिहार विधानमंडल का बजट सत्र चल रहा है. बजट सत्र के तीसरे दिन मंगलवार को विधानसभा की कार्यवाही शुरु हो गई. इस दौरान विपक्ष समेत अन्य विधायकों से जुड़े सवालों का जवाब नीतीश सरकार के मंत्री दे रहे हैं. इस दौरान नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव का भाषण हुआ.

तेजस्वी यादव ने रूपेश हत्याकांड में सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि इस केस की किस प्रकार जांच हुई. लोगों को बचाने की कोशिश की जा रही है. बिहार सरकार सिर्फ घोषणा करना जानती है. यह सरकार पेपर पर चल रही है. केंद्र से बिहार को जो विशेष पैजेक मिला उसकी जनकारी सरकार सदन पटल पर रखा जाय. बिहार को विशेष दर्जा क्यों नही मिला. चुनाव में हमारा मुख्य एजेंडा बेरोजगारी का था. बिहार में शिक्षा चौपट.

शिक्षा मंत्री पर तेजस्वी का हमला

तेजस्वी यादव ने कहा कि 7 निश्चय में सिर्फ भ्रष्टाचार है. हम राजनीति करते हैं हम किसी के व्यतिगत दुश्मन नहीं. जनता की आवाज हम उठा रहे हैं. वहीं, शिक्षा मंत्री विजय चौधरी पर तेजस्वी यादव ने कटाक्ष करते हुए कहा, मंत्री जी अच्छे और पढ़े लिखे हैं. सब को साथ लेकर चलते हैं लेकिन मंत्री जी गलत जगह फंस गये हैं. अभी ये जहां हैं वहां के हुनमान बने हैं.

नीतीश के हटने पर आत्मनिर्भर होगा बीजेपी

आपके भतीजे की उम्र के हैं, हमें प्रमोट कीजिये. हम गलत क्या बोल रहे हैं. हमारा कोई व्यतिगत दुश्मनी कहां है. 80 फीसदी स्कूलों में प्रधानाध्यापक नही हैं. 2.5 लाख शिक्षा विभाग में पद खाली हैं. जो पार्टी आत्मनिर्भर अभियान चला रही है वो बिहार में आत्मनिर्भर हो जाय. नीतीश कुमार मुक्त बिहार हो तभी बिहार में बीजेपी आत्मनिर्भर होगी.

सीएम पर तेजस्वी यादव का कटाक्ष

तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि 50 वर्ष में जब सरकारी कर्मचारी को हटा रहे हैं तो मंत्री, विधायक, मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष पर यह कानून क्यों नहीं लागू है. इतनी लुंजपुंज सरकार बिहार के इतिहास में कभी नहीं बनी है. सीएम नीतीश कुमार अनुकंपा पर सीएम बने हैं. मुझे जो कुछ कहा जा रहा है वो मेरे लिए अशीर्वचन हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here