Textile Park In Bihar : देश के अन्य बड़े राज्यों की तरह ही अब बिहार में भी उद्योग के क्षेत्र में विकास शुरू हो गया है। उद्योंगों से जहां एक ओर राज्य के विकास में मदद मिलती है, वहीं दूसरी ओर लोगों के लिये रोजगार के अवसर भी प्राप्त होते हैं। एक उद्योग अपने चारों तरफ स्थित कई इलाकों के लोगों को रोजगार प्रदान करता है। इससे अंदरूनी और बाहरी दोनों तरफ से राज्य का विकास होता है।

बिहार में अब उद्योग धंधे फलने-फूलने लगे हैं। लोगों का मानना है कि जब से बिहार के नए उद्योग मंत्री का पद शाहनवाज हुसैन ने संभाला है, तब से ज्यादा से ज्यादा उद्योगपति अपना कारोबार बिहार में स्थापित करने पर ध्यान दे रहे हैं। इसी बीच अब बिहार को एक और शानदार टेक्सटाइल पार्क की सौगात मिल चुकी है। मिली जानकारी के अनुसार एस नये टक्सटाइल पार्क के निर्माण के लिए उद्योग विभाग से भी मंजूरी मिल गई है।

Textile Park In Bihar

Textile Park In Bihar : टेक्सटाइल पार्क की स्थापना के लिये उद्योग विभाग से मंजूरी मिली

मिली जानकारी के अनुसार इस टेक्सटाइल पार्क की स्थापना के लिये उद्योग विभाग से मंजूरी मिली है। इस टेक्सटाइल पार्क यानी कि टेक्सटाइल फैक्ट्री को बिहार के पश्चिमी चंपारण के कुमार बाग में स्थापिक करने हेतु मंजूरी मिली है। इस संबंध में जानकारी देते हुए पश्चिमी चंपारण के सांसद भाजपा के बिहार प्रदेश अध्यक्ष संजय जयसवाल ने बिहार के उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन का शुक्रिया भी अदा किया है।

उधर, फिलहाल बेतिया में औद्योगीकरण के लिए 30 करोड़ रूपये भी आवंटित कर दिए गए हैं। इसकी जानकारी देते हुए सांसद जायसवाल ने कहा है कि मेरी चाहत थी कि चनपटिया औधोगिक केंद्र के रूप में विकसित हो। साल 2019 से ही इसके लिए लगातार प्रयास कर रहे हैं। वहीं, इस टैक्सटाइल पार्क के बनने से चंपारण के आस-पास के जिले के लोगों को रोजगार का अवसर मिलेगा और वे अपने परिवार का पालन-पोषण कर पायेंगे।

Leave a comment

Your email address will not be published.