पटनाः आज रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने अपनी पार्टी का जेडीयू में विलय कर दिया. खुद जेडीयू के सीनियर लीडर और बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने उन्हें पार्टी में स्वागत किया. पटना स्थित जेडीयू कार्यालय में उपेंद्र कुशवाहा और नीतीश कुमार के भरत मिलाप में भारी संख्या में नेता और कार्यकर्ता मौजूद रहे.

जेडीयू का दामन थामते ही उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि आज से हम लोग जदयू के नेता हो गए हैं. हमारे लिए पार्टी कोई नई नहीं है. हम इसके पुराने सदस्य हैं. इस पार्टी की स्थापना में हमारा बहुत योगदान है. और ये उपेन्द्र कुशवाहा भी इसी पार्टी की मिट्टी में लोट पोट कर बड़ा हुआ है. आगे कुशवाहा ने कहा कि नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार को आगे बढ़ाने का काम करेंगे.

विधानसभा परिणाम ने बदली सियासत

मीडिया को संबोधित करते हुए कुशवाहा ने कहा कि बिहार विधानसभा के परिणाम के बाद से ही हमारे सभी साथियों का मानना था कि हमें नीतीश जी के साथ मिलकर काम करना चाहिए. काफी सोच विचार करने के बाद मीटिंग्स करने के बाद हमने आज जदयू में शामिल होने का निर्णय लिया. आज से जदयू के नेता के रूप में आज से जनता के सामने रहेंगे और बिहार को आगे बढ़ाने का काम करेंगे.

नीतीश के मंत्रियों ने किया वेलकम

उपेंद्र कुशवाहा को सदस्यता बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दिलवाई. सदस्यता ग्रहण समारोह मिलन समारोह में जदयू के वरिष्ठ नेता वशिष्ठ नारायण सिंह बिहार सरकार के मंत्री अशोक चौधरी, विजय कुमार चौधरी, सांसद ललन सिंह और जदयू पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा मौजूद रहे.

कुशवाहा के साथ आने से नीतीश खुश

उपेंद्र कुशवाहा को जदयू की सदस्यता ग्रहण कराने के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि बहुत दिनों से बातचीत चल रही थी उपेंद्र जी के साथ चुनाव के बाद वशिष्ठ बाबू के साथ भी बहुत चर्चा हुई. हमारी पार्टी के सब लोगों को प्रसन्नता हुई कि उपेन्द्र जी की पार्टी हमारे साथ आ गयी. हमलोग मिलकर राज्य और देश की सेवा करेंगे.

ये भी पढ़ेंः भरे सदन में विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने डिप्टी सीएम रेणु देवी की लगा दी क्लास, जानिए पूरा मामला

जदयू में शामिल होते ही नीतीश कुमार ने बड़ी घोषणा की. उन्होंने कहा कि हमलोग राजनीति करते है और राजनीति का मतलब सिर्फ चुनाव लड़ना नहीं होता है. उपेन्द्र जी ठीक है आपकी कोई ख्वाहिश नहीं है लेकिन हमलोग तो आपके बारे सोचेंगे न, तात्कालिक रूप से आपको अभी से पार्टी के राष्ट्रीय संसदीय बोर्ड का अध्यक्ष बनाया जा रहा है. पार्टी के और राज्य के लिए जितना काम करने की जरूरत होगी हम करेंगे. आजकल लोग कुछ से कुछ बोलता है.

पटना से विशाल भारद्वाज की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here