पटनाः बिहार विधान परिषद की सदस्यता ग्रहण के बाद उपेंद्र कुशवाहा पहली बार बिहार विधान परिषद पहुंचे. उन्होंने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा है कि लगातार मेरी लड़ाई शिक्षा को लेकर रही है. अब मेरी लड़ाई काफी आसान हो गई है क्योंकि मैं सरकार के करीब पहुंच चुका हूं तो इस बात पर चर्चा होगी.

उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि जिस प्रकार से नीतीश कुमार के शासनकाल में जो काम हुआ है वह काफी सराहनीय है. आगे उन्होंने कहा सदन में काम करते हुए लोकसभा, राज्यसभा में जो एक्सपीरियंस मिला है उस बिहार के जनता के हित में वो और बेहतर तरीके से काम करेंगे. अगर आप 15 साल पहले का बिहार और अभी के बिहार को देखेंगे तो उसमें बहुत अंतर आ गया है.

लालू राज साधा निशाना

एमएलसी उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि बिहार में परिवर्तन हुआ है. सड़कों का जाल बिछा है, बिजली गांव-गांव घर-घर तक पहुंची है, पहले लोग सड़क पर चलने से डरते थे शाम होने के बाद लोग घर से नहीं निकलते थें. उन्होंने कहा कि आज तो इतना ढंग से चलते हैं जैसे कोई डर ही नहीं है. यह जो वातावरण बना है यह निश्चित रूप से बहुत अच्छा परिवर्तन है और आम आदमी भी इस परिवर्तन को महसूस कर रहा है.

लालू सुशील मोदी की लिस्ट में कुशवाहा

बता दें कि उपेंद्र कुशवाहा एमएलसी बनते ही बिहार के चुनिंदा नेताओं की लिस्ट में शामिल हो गए हैं जो सभी चारों सदन के सदस्य बने हैं. उनसे से पहले पूर्व सीएम लालू प्रसाद यादव, नागमणि और बिहार के पूर्व सीएम सुशील कुमार मोदी बिहार विधानसभा, बिहार विधान परिषद, लोकसभा और राज्यसभा के सदस्य बने हैं. इस सूची में अब उपेंद्र कुशवाहा का भी नाम जुड़ गया है.

पटना से विशाल भारद्वाज की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here