रालोसपा के कद्दावर नेताओं को आरजेडी में शामिल कराते ही तेजस्वी ने नीतीश-उपेंद्र कुशवाहा के दुखती रग पर रखा हाथ

0
8

पटनाः उपेंद्र कुशवाहा के एक-एक कर पुराने सहयोगी छोड़ कर दूसरे दलों का दामन थाम चुके हैं. रालोसपा के डजदयू में विलय की खबर से पहले ही प्रदेश अध्यक्ष समेत कई बड़े नेताओं ने आज आरजेडी का दामन थाम लिया. रालोसपा के प्रभारी प्रदेश अध्यक्ष वीरेंद्र कुशवाहा ने आरोप लगाया कि 2009 में हमलोगों ने पार्टी बनाया और संकल्प लिया था नीतीश कुमार को हटाने का.

आरजेडी के हो चुके वीरेंद्र कुशवाहा ने कहा कि उपेंद्र कुशवाहा जी संकल्प से पीछे हट गए. इसीलिए हमलोगों ने निर्णय लिया कि पूरी पार्टी के लोग संकल्प को पूरा करने के लिए राजद की सदस्यता ग्रहण की. आज के बाद जो दिशा निर्देश होगा वो राजद के होगा. वहीं, वीरेंद्र कुशवाहा ने बताया कि बापू सभागार में एक बड़ा आयोजन होगा जिसमे रालोसपा के बिहार भर के छुटे हुए साथियों को बुलाया जाएगा.

रालोसपा में अकेले रह गए उपेंद्र कुशवाहा

इस मौके पर तेजस्वी यादव ने कहा कि आज रालोसपा के सभी नेताओं ने उपेंद्र कुशवाहा को बाहर कर दिया पार्टी में बस अकेले उपेंद्र कुशवाहा बचे हुए हैं. उपेंद्र कुशवाहा लालू यादव को भी सलाह देते थे कि नीतीश जैसा दोस्त हो तो दुश्मन की जरूरत नहीं. नीतीश कुमार के खिलाफ कई सारे मुद्दे पे कुशवाहा ने आवाज उठाई. लेकिन अब उनको लगने लगा है कि हालात ठीक हो रहे हैं.

सीएम नीतीश पर तेजस्वी का तंज

तेजस्वी यादव ने उपेंद्र कुशवाहा पर तंज कसते हुए कहा कि चुनाव के दौरान नीतीश कुमार ने नीच कहा था लेकिन अब उनकी शरण में जा रहे हैं. सीएम पर कटाक्ष करते हुए कहा कि बिहार में यह दिन आ गया कि जिनको नीच कहते थे उनको भी पार्टी में लाने की बात कही जा रही है. अब जब कुशवाहा जी की पूरी टीम ही हमारे साथ आ गई है तो हम मोदी सरकार को घेरने का काम करेंगे और जनता के सवालों को उठाने का काम करेंगे.

वैशाखी के सहारे नीतीश

रालोसपा झारखंड प्रदेश अध्यक्ष भी शामिल और उनकी पूरी टीम भी श्याम पार्टी में उपेंद्र कुशवाहा को छोड़कर कोई नहीं बचा है. बिहार के हालात ऐसे बनते जा रहा है नीतीश कुमार वैशाखी पर हैं और नीतीश कुमार जी पार्टी तीसरे नंबर पर लेकिन हमारे हिसाब से चौथे नंबर पर हैं. परंतु इलेक्शन कमीशन ने उनको तीसरे नंबर पर लाया है. तीसरे नंबर की पार्टी का भी मुख्य बिहार का सीएम है.

भ्रष्टाचार, क्राइम पर सरकार को घेरा 

तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर जोरदार हमला करते हुए कहा कि देश के किसी भी राज्य का कोई भी ऐसा मुख्यमंत्री नहीं हो जो इतना बेबस और लाचार है. बिहार में लगातार शराब की बिक्री हो रही है लेकिन कार्रवाई किसी पर नहीं हो रही है. अपराध हो या भ्रष्टाचार, बिहार में विकास दर ठप हो चुका है. शिक्षा रोजगार हर चीज पूरी तरीके से चौपट हो गया है.

अपराधियों पर नहीं होती है कार्रवाई

नीतीश कुमार के सरकार कई ऐसे लोगों को संरक्षण देने का काम करती है जिन को जेल में होना चाहिए मंत्री के में शराब पकड़ा है लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई मंत्री के भाई गोपालगंज से विधायक आता जिन्होंने ट्रिपल मर्डर किया लेकिन उनको उनके ऊपर कोई कार्यवाही नहीं. बिहार सरकार में अपराधियों को संरक्षण दिया जाता है. पुलिस का एनकाउंटर शराब माफिया करते हैं लेकिन धरपकड़ और गिरफ्तारी नहीं होती है.

ये भी पढ़ेंः जेडीयू में रालोसपा के विलय से पहले ही टूट गई उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी, प्रदेश अध्यक्ष सहित ये बड़े नेता आरजेडी में शामिल

वहीं, तेजस्वी यादव ने कहा कि रिंकू सिंह वाल्मीकि नगर के विधायक जिसने पूर्व पार्षद पर गोली चलवाई उनको मरवाया अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है. उनकी पत्नी भी राजद कार्यालय में मौजूद रही. मृतक के पत्नी ने कहा कि पुलिस की मौजूदगी में और विधायक के समर्थन से उनके पति को गोली मार दिया मार दिया गया है. विधायक ने कहा कि गोली मार दो साले को और उनके पति को मार दिया गया.

पटना से विशाल भारद्वाज की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here