पटनाः कभी एनडीए का हिस्सा रह चुकी रालोसपा के वापसी को लेकर संशय के बादल मंडरा रही है. रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा महागठबंधन लगभग छोड़ने की बात कहने वाले किस गठबंधन में रहेंगे या फिर एनडीए और महागठबंधन के खिलाफ मैदान में उतरेंगे, यह तय नहीं हो पाया है. एनडीए में जाने की अटकल के बीच उपेंद्र कुशवाहा नई दिल्ली से वापस पटना लौट आए हैं. दिल्ली से वापस पटना लौटे उपेंद्र कुशवाहा ने गठबंधन के सवालों पर चुप्पी साध ली. पटना लौटे उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि उनकी मुलाकात भूपेंद्र यादव से नहीं हुई है.

रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि उनकी मुलाकात सीएम नीतीश कुमार से भी नहीं हुई, जो भी अटलें मुलाकात को लेकर चल रही हैं गलत है. वहीं, उपेंद्र कुशवाहा ने तेजस्वी यादव के बयान पर पूरी तरह से चुप्पी साध ली. कुशवाहा ने कहा कि पार्टी के लोगों ने फैसले लेने के लिए मुझे अधिकृत किया है. इस बाबत जब फैसला ले लूंगा तो जानकारी साझा की जाएगी. दरअसल, उपेंद्र कुशवाहा महागठबंधन में तवज्जो न मिलने से खासे नाराज हैं. कुशवाहा ने सीट शेयरिंग में देरी होने पर पार्टी के पदाधिकारियों से बातचीत कर तेजस्वी पर निशाना साधा था.

उपेंद्र कुशवाहा (फाइल फोटो)
उपेंद्र कुशवाहा (फाइल फोटो)

ये भी पढ़ेंः अपने दम पर नीतीश-मांझी को पटखनी देंगे चिराग, चुनाव लड़ने पर लिया बड़ा फैसला

एनडीए नेताओं के संपर्क में कुशवाहा

बताया जा रहा है कि कुशवाहा कांग्रेस आलाकमान के साथ-साथ एनडीए के भी लगातार टच में हैं और चुनाव से पहले सम्मानजनक स्थिति के लिए कांग्रेस के अलावा एनडीए में भी जाने का विकल्प खुला रखा है. मालूम हो कि उपेंद्र कुशवाहा ने कुछ दिन पहले पटना में महागठबंधन से बाहर निकलने के फैसले को लेकर मीटिंग बुलाई थी जिसमें पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं और नेताओं ने उन्हें किसी भी फैसला लेने के लिए अधिकृत किया है.

Get Daily City News Updates

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *