पटनाः महागठबंधन में आरजेडी के साथ बगावत कर अल-थलग पड़े उपेंद्र कुशवाहा के अगले कदम को लेकर सबकी नजरें हैं. महागठबंधन में आरजेडी से सीट शेयरिंग मामले में गच्चा खा चुके कुशवाहा का कुनबा भी सिकुड़ता जा रहा है. सोमवार को रालोसपा प्रदेश अध्यक्ष भूदेव चौधरी ने लालटेन का दामन थाम लिया. जिसका इनाम उन्हें आरजेडी में तेजस्वी ने प्रदेश उपाध्यक्ष बनाकर दी. वहीं, आज रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा मंगलवार को महत्वपूर्ण घोषणा करने वाले हैं. कुशवाहा इस बात का खुलासा करेंगे कि वो चुनाव में किस गठबंधन के साथ खड़े रहें या फिर नये रास्ते पर चलेंगे.

उपेंद्र कुशवाहा का महागठबंधन में रहने की संभावना अब खत्म हो गई है. तेजस्वी यादव ने उनकी पार्टी के नेताओं को एक-एक कर अपने पाले में कर लिया है. ऐसे में आरजेडी के साथ रहकर चुनाव लड़ना उनके लिए संभव नहीं है. भूदेव चौधरी के आरजेडी ज्वाइन करने के बाद उपेंद्र कुशवाहा ने सोमवार की रात आनन-फानन में बयान जारी कर कहा कि उनकी पार्टी को लेकर जानबूझकर भ्रम की स्थिति पैदा की जा रही है. महागठबंधन से अलग होने को लेकर उपेंद्र कुशवाहा पहले ही इशारा कर चुके हैं.

ये भी पढ़ेंः बीजेपी ने नये फॉर्मूले के साथ चिराग पासवान को दिया आखिरी अल्टीमेटम, बवाल मचना तय

तेजस्वी को सीएम मटेरियल नहीं मानते कुशवाहा

आरजेडी के रालोसपा में पहले सेंध से नाराज कुशवाहा उपेंद्र कुशवाहा ने पिछले दिनों पार्टी की महत्वपूर्ण बैठक में तेजस्वी को सीएम कैंडिडेट मानने से साफ इनकार कर दिया था. पार्टी के अधिकारियों ने कुशावाहा को फैसला लेने के लिए अधिकृत किया है. ऐसे में उनका कोई भी फैसला पार्टी कार्यकर्ताओं और बिहार की 12 करोड़ जनता के हित को ध्यान में रखते हुए लिया जाएगा. पार्टी सूत्रों की माने तो उपेंद्र कुशवाहा किसी नए गठबंधन में शामिल होंगे. दूसरी तरफ पप्पू यादव ने भी उपेंद्र कुशवाहा से कई राउंड बातचीत करने का दावा किया है. वहीं, बसपा से कुशवाहा का बातचीत जारी है. इस पर आज बड़ा फैसला हो सकता है.

ये भी पढ़ेंः दिल्ली से वापस लौटे उपेंद्र कुशवाहा, एनडीए में इंट्री और नीतीश पर की ये टिप्पणी

Get Daily City News Updates

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *