0Shares

Airports Development Bihar : बिहार को अन्य राज्यों व देशों से जोड़ने के लिये यहां परिवहन व्यवस्था पर विश्ष ध्यान दिया जा रहा है। लगातार अत्याधिक बस व ट्रेन सेवाएं शुरू की जा रही हा, जिससे यात्रियों का आवागमन सरल हो पाये। इसी बीच हवाई मार्ग से यात्रा करने वालों के लिये भी राज्य सरकार हवाई अड्डों के विकास पर विशेष तौर पर ध्यान दे रही है। बिहार में इस समय सरकार हवाई अड्डों पर विशेष रूप से ध्यान दे रही है, ताकि सभी जिलों की कनेक्टिविटी मजबूत हो और लोगों को आसानी हो। फिलहाल बिहार में तीन ऐसे हवाई अड्डे हैं जिससे लोग यात्रा कर पाते हैं। पहला एयरपोर्ट राजधानी पटना में स्थित जयप्रकाश नारायण हवाईअड्डा है, दूसरा दरभंगा हवाई अड्डा और तीसरा बिहार के गया जिले में अवस्थित गया हवाईअड्डा है।

इसी बीच भागलपुर और गोपालगंज एयरपोर्ट को चालू करने के लिए लोगों ने मांग तेज कर दी है। दूसरी ओर बिहटा एयरपोर्ट की हवाई पट्टी भी चालू होने की स्थिति में है, लेकिन इसे सिर्फ सैन्य चीजों के लिए इस्तेमाल किया जाएगा।

Airports Development Bihar

Also Read : Air Travel : महंगा होगा हवाई सफर, ATF की कीमतों में वृद्धि का सीधा असर मुनाफे पर

Airports Development Bihar : हवाईअड्डों के विकास पर चर्चा हेतु एक बैठक का आयोजन

हवाईअड्डों के विकास पर चर्चा हेतु एक बैठक का आयोजन किया गया था, जिसमें वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कई जिले के जिला अधिकारी शामिल हुए। बैठक में दरभंगा, पटना और गया के साथ ही मुजफ्फरपुर, पूर्णिया, गोपालगंज, सोनपुर, भागलपुर, मुंगेर, रक्सौल और फारबिसगंज में एयरपोर्ट विकसित को लेकर निर्देश दिया गया। मुख्य सचिव आमिर सुबहानी ने जिलाशासकों को निर्देश दिया कि जिन जिन जिलों में हवाई अड्डे निर्माण को लेकर योजना प्रस्तावित है, वहां भू अर्जन से लेकर शेष लंबित कामों को जल्द पूरा करें।

मुख्य सचिव ने निर्देश दिया कि भूमि अधिग्रहण में किसी तरह की परेशानी हो रही हो तो इस संबंध में भूमि राजस्व सुधार विभाग के अधिकारियों से सलाह लें। उन्होंने निर्धारित अवधि के अंदर बिहटा और दरभंगा हवाई अड्डे के सभी कामों को पूरा करने का निर्देश दिया। बैठक में मुख्य सचिव आमिर सुबहानी के अलावा विकास आयुक्त, सचिव, कैबिनेट के अपर मुख्य सचिव व अन्य अधिकारी मौजूद रहें।

Leave a comment

Your email address will not be published.