0Shares

Bihar News : बिहार (Bihar) के सरकारी स्कूलों के टीचरों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है। नगमा के पिछले 2 सालों से तबादले का इंतजार कर रहे प्रारंभिक स्कूलों के दो लाख अध्यापकों का तबादला जून और जुलाई में हो सकता है। हाई स्कूलों के अध्यापकों को तबादले (Transfer) के लिए अभी इंतजार करना पड़ेगा। छठवें चरण के तहत 32714 शिक्षकों की बहाली का मामला अभी हाईकोर्ट में है। अभी हाईकोर्ट से आदेश मिलने और बहाली के बाद इनका तबादला किया जाएगा। ट्रांसफर के लिए सॉफ्टवेयर के माध्यम से इच्छुक शिक्षकों के आवेदन लिए जाएंगे। शिक्षा विभाग चाहता है कि गर्मियों की छुट्टियों में इनका ट्रांसफर हो जाए, ताकि बाद में स्कूलों की पढ़ाई में कोई समस्या ना हो।

Bihar News

Bihar News : दो साल का इंतजार अब होगा खत्म

सभी DEO जिलावार, नियोजन इकाईवार, विषयवार, कोटिवार रिक्त पदों की जानकारी वेब पोर्टल पर अपलोड करेंगे। जिस कोटि के टीचर है, उसी कोटि के लिए तबादला (Transfer) का आवेदन कर सकेंगे। निगरानी जांच में फंसे शिक्षक ट्रांसफर के लिए आवेदन नही दे सकेंगे, जिनके सर्टिफिकेट की जांच नही हो सकेगी। सेवाशर्त के अनुसार करीब 3 लाख प्रारम्भिक स्कूलों में नियोजित टीचरों में से निगरानी जांच में फंसे लगभग 85000 टीचरों को आवेदन का मौका नही मिलेगा।

महिलाओं-दिव्यांग को मिलेगा ऐच्छिक ट्रांसफर

शिक्षिकाओं और दिव्यांग (Handicaped) शिक्षकों को उनका मनपसन्द तबादला मिलेगा। पुरुष शिक्षकों को अंतरजिला ट्रांसफर अंडरम्युचुअल आधार पर होगा। अंतरण योजना स्थानांतरण के लिए अधिकतम तीन विकल्प दे सकेंगे। इस कोटि में कक्षा 1 से 5 तक के शिक्षक आवेदन कर सकेंगे।

जून में होगी प्रक्रिया पूरी

शिक्षा विभाग (Education Department) का लक्ष्य है कि जून महीने तक तबादले की प्रक्रिया पूरी हो जाये। प्राथमिक स्कूलों में तबादले की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। इसके लिए एक सॉफ्टवेयर तैयार कराया जाएगा। सॉफ्टवेयर के माध्यम से पूरी पारदर्शिता के साथ तबादला प्रक्रिया पूरी होगी।

Leave a comment

Your email address will not be published.