0Shares

Bihar News : राजधानी पटना के गंगा से आने वाली दृश्ये आपको दिल दिमाग और नज़रों को काफी सुकून दे सकती हैं, कैसे अपने देश का भविष्य जूनून से प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी में रहता हैं ये देखना अपने आप में गर्व की बात हैं। ऐसे में हर दिन गंगा किनारे उनकी अनोखी क्लास लगती हैं, समूह में पढ़ रहे इन छात्रों की तन्‍मयता देखते ही बनती है। छात्रों का कहना है कि समूह में पढ़ने से काफी फायदा होता है।

Bihar News

Bihar News : भारी मात्रा में प्रतियोगी परीक्षा देने वाले छात्र

बिहार में प्रतियोगिता की पढाई करने वाले बच्चों की संख्या बहोत भारी मात्रा में हैं, ऐसे में कई छात्र यहाँ आकर पढाई करते दिखाई देते हैं। नदी तट पर बनी सीढ़‍ियों पर वे बैठ जाते हैं फिर शुरू हो जाती है उनकी अपनी क्‍लास। एक-दूसरे के सहयोग से ये व‍िभिन्‍न विषयों को साधते हैं। रेलवे, एसएससी, दारोगा व अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए सुबह छह बजे से 11 बजे तक खुले आसमान के नीचे बैठे इन छात्राें की तन्‍मयता वहां पहुंचने वाले लोगों भी प्रभा‍वित करती हैं।

इससे पहले भी यह छात्रों तस्वीर काफी फेमस हुई थी, ऐसे में बच्चे यहाँ के शांत वातावरण में गंगा की कल-कल करती धारा के किनारे विभिन्‍न परीक्षाओं के माडल प्रश्नों के साथ छात्र-छात्राएं अभ्यास करते है। इस दौरान प्रश्नों में आने वाली कठिनाईयों को एक-दूसरे के साथ मिलकर सुलझाते है। ग्रुप डिस्कशन के साथ नई-नई जानकारियों को एक-दूसरे से साझा करते है।राजधानी के बाजार समिति, नया टोला, खजांची रोड, भीखनापहाड़ी, मुसल्लहपुर, गायघाट आदि इलाकों में रह कर प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले सैंकड़ों छात्र यहां हर शनिवार-रविवार को सेट प्रैक्टिस के लिए जुट जाते है।

ऐसे में सैंकड़ों की संख्या में बच्चे गंगा किनारे पटना ला कालेज घाट से लेकर दरभंगा हाउस तक बैठे रहते हैं। सबसे अधिक बच्चे कदम घाट, काली घाट व पटना कालेज घाट पर सीढ़ीयों पर बैठकर तैयारी व सेट प्रैक्टिस करते है। यहां विभिन्न परीक्षाओं की तैयारी के साथ-साथ परीक्षा पैटर्न, नए वैकेंसी को लेकर भी जानकारी साझा करते है।

Leave a comment

Your email address will not be published.