0Shares

Bihar News : बिहार में सड़को के खराब होने और टूटने की शिकायत बार बार मिल रही थी ऐसे में अब सरकार इन सड़को की ऑनलाइन निगरानी कराने जा रही है सड़क निर्माण विभाग की तरफ से इसके लिए सम्पूर्ण तैयारियां भी कर ली गयी है इस योजना के तहत कब कब ठेकेदार ने सड़को की मरम्मत करवाई और कब कब इसका जायजा लिया सब का ऑनलाइन रिकॉर्ड होगा

Bihar News

Bihar News : 2026 तक मरम्मत का जिम्मा

विभाग के अधिकारियों के अनुसार साल 2019 से ही ओपीआरएमसी मॉडल को लागू कर दिया गया था इसके बाद साल 2026 तक सड़को की मरम्मत का जिम्मा एजेंसियो को दिया गया है लेकिन हर रोज सड़क मरम्मत में लापरवाही की शिकायत मिलती रहती है सड़को की समय में मरम्मत न होने के करने लोगो को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है और ये शिकायतें विधायकों के द्वारा विभाग के पास जाती है

इस तरह होगी नई व्यवस्था
इस योजना के तहत कमांड एंड कंट्रोल रूम से सड़को को जोड़ा जाएगा इस सुविधा की शुरुआत जल्द ही हो जाएगी इस सिस्टम के द्वारा यह जानकारी प्राप्त होगी कौनसी सड़क का निर्माण कब-कब हुआ है साथ इस पर इंजीनियरों की भी निगरानी रहेगी कौन इंजीनियर किस सड़क की कितनी बार निरीक्षण कर चुका है इन सब बातो की जानकरी विभाग के पास में होगी

13 हजार किमी सड़को पर रहेगी निगरानी
विभाग इस प्रणाली से राज्य की 13 हजार किलोमीटर सड़को की निगरानी रखने की कोशिश करेगा इसके लिए ओपीआरएमसी के राज्य के स्टेट हाइवे व मेजर डिस्ट्रिक्ट रोड की मरम्मत की जा चुकी है सात साल के लिए 13063.26 किमी सड़को की मरम्मत के लिए 6654.27 करोड़ का खर्चा होने की सम्भावना है

Leave a comment

Your email address will not be published.