0Shares

Bihar News : जब से कोरोना ने भारत देश में पाँव पसारे हैं तभी से देश में युवा बेरोजगारों की संख्या बढ़ी हुई हैं, कोरोना महामारी ने कई रोजगार वालों को बेरोजगार कर दिया हैं। इस बात से अंदाजा लगाया जा सकता हैं की देश में रोजगार मांगने वालों की संख्या कितनी हो सकती हैं, ऐसे में पिछले 1 साल से बिहार में रोजगार मांगने वाले लोगों की संख्या 4 गुना बढ़ी हैं। और ये आंकड़े काफी चौकाने वाले भी हैं, इस वर्ष 2021-22 में 3 लाख से भी अधिक लोगों ने NCS पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराया हैं। जो पिछले साल से कई अधिक हैं।

Bihar News

Bihar News : 14 लाख बेरोजगारों ने कराया रजिस्ट्रेशन

ऐसे में ऑनलाइन पोर्टल पर 2015 से लेकर अबतक प्रदेश के करीब 14 लाख से अधिक बेरोजगारों ने अपना रजिस्ट्रेशन कराया हैं। बेरोजगारों को ऑनलाइन निबंधन की सुविधा NCS के साइड पर 2015-16 से मिली हुई हैं। ऐसे में ये पोर्टल खुलने पर पहले साल में बिहार के मात्र 5152 बेरोजगारों ने ही ऑनलाइन अपना रजिस्ट्रेशन कराया था, लेकिन 2016-17 में 605397 बेरोजगारों ने ऑनलाइन पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन कराया।

कोरोना के बाद से ऐसे धीरे धीरे बेरोजगारी बढ़ी हैं, जो युवाओं के लिए काफी बढ़ी समस्या हैं। 2017-18 में एक लाख 53 हजार 709, तो 2018-19 में एक लाख 43 हजार 858 बेरोजगारों ने पोर्टल पर निबंधन किया। 2019-20 में एक लाख 18 हजार 828 बेरोजगारों ने पोर्टल पर निबंधन किया।

वहीं, कोरोना के कारण 2020-21 में सबसे कम 71 हजार 817 बेरोजगारों ने ही पोर्टल पर निबंधन किया, लेकिन जैसे ही कोरोना का प्रभाव खत्म हुआ कि 2021-22 में तीन लाख पांच हजार 683 बेरोजगारों ने पोर्टल पर निबंधन किया है, जो हाल के वर्षों में सबसे अधिक है। ये आंकड़े सिर्फ एक राज्य के हैं ऐसी स्थिति कई और राज्यों में हैं ऐसे में देश के बेरोजगारी के आंकड़े काफी चौका सकते हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.