0Shares

Bihar News : बिहार से नकली दवाओं के कारोबार को लेकर बड़ी और चौकाने वाली खबर सामने आई हैं, जिससे सरकार और प्रशासन का अँधा कारोबार उजागर हुआ हैं। बिहार के मोतिहारी में नकली दवा की एक बड़ी फैक्ट्री पकड़ी गई हैं, जो लोगों के जान से हर रोज खिलवाड़ किया करती थी। जिसमे एक डॉक्टर समेत कई लोग और भारी मात्रा में नकली सामान पकड़ा गया हैं।

Bihar News : ऐसे बनती थी नकली दवा

इस नकली दवाई बनाने वाले फैक्ट्री में, एक डॉक्टर मीठा का घोल सत्तू, अजवाइन, सौंफ, मिश्री के साथ पकड़ा गया। शहर से सटे रघुनाथपुर मोहल्ले में ग्रामीण बैंक के पास स्थित संपूर्ण आरोग्य केंद्र में गुरुवार को ड्रग्स इंस्पेक्टर दयानंद प्रसाद के नेतृत्व में छापेमारी की हुई। भारी मात्रा में नकली दवा और दवा बनाने की सामग्री जब्त कर डाॅ. दिनेश कुमार चौधरी काे गिरफ्तार कर लिया। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है।

ऐसे में इन दवाओं की पैकिट पर विदेशी कंपनी का रैपर लगा कर ग्रामीण इलाके के लोगों को बेचा जाता था, इसी के बाद नकली फैक्ट्री में छापेमारी की टीम पहुंची। डॉक्टर और उसके अन्य स्टाफ ने अस्पताल का दरवाजा बंद कर दिया। काफी मशक्कत के बाद गेट खुला। वहां पर दवा बनाने के काम में छोटे बच्चों के साथ महिलाएं भी जुटी थीं।

एक-एक कर सभी कमरे की तलाशी कर दवा की खाली शीशी, खुले टैबलेट, मिट्ठा का घोल, सत्तू, अजवाइन, सौंफ, मिश्री, डिस्टिल वाटर सहित भारी मात्रा में रैपर, दवा सील करने वाली मशीन आदि बरामद की है। आरोपित डॉ. दिनेश कुमार चौधरी ने पटना से बीएएमएस की पढ़ाई की है। वह एक वर्ष से रघुनाथपुर में संपूर्ण आरोग्य केंद्र खोल कर लोगों का इलाज करता था। मरीजों को नकली दवा बना कर महंगे दाम पर बेचता था।

Leave a comment

Your email address will not be published.