0Shares

Bihar News : बिहार के 12 से ज्यादा इलाकों में हर साल कहर ढाने वाली बीमारी एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम ने बढ़ती ही गर्मी के साथ में एक बार फिर से दस्तक दे दी है इस बीमारी से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग की तरफ से सम्पूर्ण तैयारियां कर ली गई है स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे का कहना है सरकार इस बीमारी से निपटने के लिए हर संभव प्रयास करेगी आखिर इस बीमारी से निपटने के लिए यह जानना जरूरी है कि ये बीमारी क्यों और कैसे होती है और इसके इलाज क्या है

Bihar News

Bihar News : 12 साल में 20 हजार से अधिक लोग पीड़ित

एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम यानि चमकी बुखार पिछले कुछ सालों से बच्चों के ऊपर कहर बनाकर टूट रही है गर्मियों के मौसम में इसका खतरा काफी बढ़ा जाता है पिछले 12 सालों से इस बीअमरि की चपेट में 20 हजार से अधिक लोग आ चुके है इस बीमारी के कारण बिहार के मुज्जरपुर में 500 से भी अधिक लोगो की जान गई है साल 2019 में इस बीमारी =की वजह से 111 बच्चों की जान गई थी इस वजह से पूरे देश में हड़कंप मचा हुआ था

इस तरह से बचे इस बीमारी से
अगर समय के साथ इस बीमारी का इलाज नहीं किया जाए तो यह बीमारी बढ़ती चली जाती है यदि इसके करने की बात की जाए तो अभी तक पता नहीं चल पाया है यह वायरस गर्मी के मौसम में अधिक होता है कभी लीची तो कभी खाली पेट रहना भी इसके कारण में शामिल है डॉ डीपी सिंह का कहना है गर्मी के बढ़ने के साथ ही इस बीमारी का वायरस फैलता है इसके बचाव के लिए सावधानी बरतनी चाहिए

Leave a comment

Your email address will not be published.