0Shares

Bihar Weather Alert : बिहार सहित देश के कई राज्यों में मानसून का प्रभाव दिखने लगा है। एकाधिक राज्यों में बाढ़ की स्थिति का खतरा भी अब सामने आता नजर आ रहा है। बिहार में लगातार हो रही तेज बारिश की वजह से कई जिलों में नदियों का जलस्तर खतरे के निशन तक पहुंच गया है, जिस वजह से कटाव शुरू हो गया है। यहां तक कि कई घर भी इन नदियों की चपेट में आ चुके हैं। इसी बीच राज्य में अगले 48 घटों तक सूबे के अलग-अलग जिलों में बारिश और वज्रपात की चेतावनी जारी की गई है। बुधवार और गुरुवार को राजधानी पटना समेत पूरे सूबे में मानसून संबंधी गतिविधियां जारी रहेंगी। मंगलवार को सीमांचल के अधिकतर इलाकों में भारी बारिश देखी गई। साथ ही आंधी-बारिश और ठनका की चपेट में आने से बीते 24 घंटे के भीतर प्रदेश में 5 लोगों की मौत की खबर है।

Bihar Weather Alert

Also Read : Bihar Flood Situation : बिहार में बाढ़ की स्थिति की आहट, नदिया उफान पर, जाने विभिन्न जिलों का हाल

Bihar Weather Alert : किशनगंज जिले के तैयबपुर में सर्वाधिक 170 मिलीमीटर पानी गिरा

पटना स्थित मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक बीते 24 घंटे के भीतर किशनगंज जिले के तैयबपुर में सर्वाधिक 170 मिलीमीटर पानी गिरा। सीमांचल के अधिकतर क्षेत्रों में भी तेज बारिश हुई है। राजधानी पटना समेत आसपास के इलाकों में भी वज्रपात के साथ हल्की बारिश होने से तापमान में गिरावट दर्ज की गई। मंगलवार को पटना में अधिकतम तापमान एक डिग्री गिरावट के साथ 34.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं, आरा में सर्वाधिक 37.8 डिग्री सेल्सियस पारा रहा।

मंगलवार को किशनगंज में 132.4, किशनगंज के ही गलगलिया में 78.8, पूर्णिया के डेंगराघाट में 74.2, समस्तीपुर के रोसड़ा में 72, हसनपुर में 67.8, कटिहार के बलरामपुर में 67.8, मुजफ्फरपुर में 67.2, अररिया में 60.4 और सुपौल के निर्मली में 56.3 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई।

राज्य में आंधी-बारिश और वज्रपात से मंगलवार को 5 लोगों की जान चली गई। सबसे ज्यादा नवादा जिले में दो लोगों की मौत हुई। इसके अलावा सहरसा, पूर्णिया और खगड़िया जिले में एक-एक व्यक्ति की मौत की खबर है। डिप्टी सीएम रेणु देवी ने घटना पर शोक व्यक्त किया है। मिली जानकारी के अनुसार राज्य सरकार मृतकों के परिजनों को 4 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देगी।

Leave a comment

Your email address will not be published.