0Shares

Bihar Weather : बिहार में लगातार हो रही बारिश और वज्रपात ने आफत मचा रखी है। लगातार बारिश की वजह से जनजीवन तो अस्त-व्यस्त है ही साथ ही पिछले कुछ दिनों में आकाशीय बिजली गिरने से कई लोगों ने अपनी जानें गंवायी हैं। मानसून सक्रिय होने के बाद से ही बिहार में आंधी-तूफान, बारिश और वज्रपात का कहर जारी है।

मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार, 24 जून को राज्य की अलग-अलग जगहों पर बिजली गिरने 7 लोगों की मौत हो गई है। इनमें से सबसे ज्यादा मोतिहारी में तीन लोगों की जान गई। इसके अलावा सीवान, बेतिया, शेखपुरा और औरंगाबाद में भी आकाशीय बिजली के कहर से एक-एक शख्स की मौत की खबरें मिली है।

Bihar Weather

Also Read : Bihar Weather : बिहार के चार जिलों में वज्रपात, आंधी और तेज बारिश का अलर्ट, लोगों को सतर्कता बरतने की सलाह

Bihar Weather : मौसम के कहर ने जानवरों को भी नहीं बख्शा

पूर्वी चंपारण जिले में शुक्रवार शाम मौसम काफी खराब हो गया। पहाड़पुर थाना अंतर्गत पूर्वी सिसवा में मलदहिया गांव में आकाशीय बिजली गिरने से से एक विधवा मां और उसके 17 साल के बेटे की मौत हो गई। वहीं, मधुबन के गोपालपुर गांव में भी शुक्रवार को बारिश के दौरान ठनका गिरने से एक मासूम बच्चे की जान चली गयी। मौसम के कहर ने जानवरों को भी नहीं बख्शा। यहां एक भैंस की मौत भी हुई।

उधर, सीवान जिले के दरौंदा थाना इलाके में आकाशीय बिजली गिरने से एक किशोर की मौत हो गई और एक अन्य व्यक्ति के गंभीर रूप से झुलसने की खबर है। इसके अलावा बेतिया, शेखपुरा और औरंगाबाद जिले में भी एक-एक व्यक्ति की जान गई।

राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को वज्रपात की वजह से जान गंवाने वाले मृतकों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस आपात घड़ी में सरकार उनके साथ है। उन्होंने अधिकारियों को मृतकों के परिजनों को तुरंत चार-चार लाख रुपये की सहायता राशि मुहैया करवाने के निर्देश दिए हैं। साथ ही मुख्यमंत्री ने लोगों से खराब मौसम के दौरान सावधानी बरतने की अपील भी की।

Leave a comment

Your email address will not be published.