0Shares

बिहार के पर्यटन से जुड़े व्यवसायियों के लिए एक अच्छी खबर आई है। बिहार के गया एयरपोर्ट से अब एक बार फिर अंतरराष्ट्रीय उड़ाने चालू हो गई है। गौरतलब है कि कोरोना महामारी और लॉकडाउन के कारण गया एयरपोर्ट पर लगभग 2 वर्षो से इंटरनेशनल फ्लाइट्स की आवाजाही बंद थी। अब यहां अप्रैल व मई में वियतनाम और म्यांमार से स्पेशल चार्टर्ड फ्लाइटों का आवाजाही प्रारंभ हो गई है। दोनों देशों से दर्जनभर से अधिक चार्टर्ड फ्लाइट्स विदेशी यात्रियों को ला चुके है। अभी जून की भीषण गर्मी होने के बाद भी गुरुवार को थाईलैंड से एयर एशिया का विमान 173 यात्रियों को लेकर गया पहुंचा।

2 वर्ष बाद गुरुवार को विदेशी पर्यटकों को लेकर एयर एशिया की फ्लाइट गया एयरपोर्ट पहुंची। पर्यटन सीजन में थाईलैंड से बोधगया सबसे अधिक पर्यटक आते हैं। एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को लेकर दिशा निर्देशों में संशोधन किया है। इसके अंतर्गत विदेशी एयरलाइंस कंपनी एवं यात्रियों को कई पाबंदियों से राहत मिलेगी। अब विदेशी एयर कंपनी डायरेक्ट स्पेशल फ्लाइट से यहां आ सकते हैं। पहले एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया, सरकार एवं स्थानीय प्रशासन से इसके लिए अनुमति लेनी पड़ती थी, लेकिनअब इसमें छूट दी गई है। हालांकि, इससे विदेशी चार्टर्ड फ्लाइट की आवाजाही में वृद्धि होगी।

गया एयरपोर्ट

गया एयरपोर्ट : जल्द ही उड़ानों का शिड्यूल जारी किया जाएगा

अक्टूबर से गया हवाई रूट पर इंटरनेशनल विमानों का परिचालन शुरू हो जाएगा। वियतनाम की विजेट एयरलाइंस अक्टूबर से गया- हनोई (वियतनाम) की सप्ताह में 3 दिन इसकी सेवा होगी। एयरपोर्ट निदेशक बंगजीत साहा ने कहा कि मार्च व अप्रैल में वियतनाम और म्यांमार से दर्जनों चार्टर्ड फ्लाइट्स आ रही है। अतः अक्टूबर से नियमित विदेशी विमानों की उड़ान शुरू हो जाएगी। जल्द ही उड़ानों का शिड्यूल जारी किया जाएगा।

आपको बता दूं कि गया रूट पर वियतनाम की नियमित उड़ान भरने वाली विजेट एयरलाइंस ने अपनी सेवा शुरू करने हेतु अनुमति मांगी थी, जो दे दी गई है। बता दें कि राज्य में राजगीर, नालंदा, बोधगया और वैशाली पर्यटन स्थलों पर पर्यटन उद्योग काफी हद तक विदेशी पर्यटकों पर ही आश्रित है। कोरोना की वजह से यहां व्यापारियों को भारी नुकसान सहना पड़ा, क्योंकि यहां विदेशी पर्यटकों का आगमन बिल्कुल बंद हो गया था। अब फिर से इंटरनेशनल फ्लाइट शुरू होने से विदेशी पर्यटकों के आने की उम्मीद बढ़ गई हैं। दरअसल प्रत्येक वर्ष बड़ी संख्या में यहां विदेशी पर्यटक आते हैं और लंबे समय तक रुकते हैं। ऐसे में विदेशी पर्यटक पर्यटन उद्योग के लिए आय का एक प्रमुख स्रोत है।

Leave a comment

Your email address will not be published.