0Shares

Patna Airport : पटना एयरपोर्ट पर नवीनीकरण का काम जारी है। यात्रियों की बढ़ती संख्या को देखते हुए यह कदम उठाया गया है। टर्मिनल भवन सहित अन्य निर्माण कार्य तेजी से चल रहे हैं।

इसी कड़ी में एयरपोर्ट पर 25 मीटर ऊंचा एयर ट्रैफिक कंट्रोल (एटीसी) टावर भी बनाया जायेगा, जिसमे करीब 23 करोड़ रुपये की लागत आएगी। एटीसी टावर से एयरपोर्ट पर उड़ानों के संचालन की क्षमता काफी बढ़ जाएगी। टावर में लगे अत्याधुनिक उपकरण व रडार से 500 किलोमीटर दूर से ही उड़ानों को नियंत्रित किया जा सकेगा। रनवे व्यस्त होने की सूचना पायलट को काफी पूर्व दे दी जाएगी, जिससे वे उड़ान की गति को नियंत्रित कर सकेंगे।

Patna Airport

Patna Airport : देश के व्यस्ततम 12 हवाईअड्डों में से एक

दरअसल, पटना एयरपोर्ट देश के व्यस्ततम 12 हवाईअड्डों में से एक है। यहां से हवाई यात्रा करने वाले यात्रियों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। इसके मद्देनजर एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एएआइ) पटना एयरपोर्ट पर नई टर्मिनल भवन सहित अन्य भवनों का निर्माण करा रहा है। इससे पहले तक पटना एयरपोर्ट पर अलग से कोई एटीसी टावर नहीं था। एयरपोर्ट भवन स्थित एटीसी कार्यालय से उड़ानों का संचालन किया जा रहा था।

एयरपोर्ट पर एटीसी टावर बनने के बाद वहां से वर्तमान से करीब दोगुने उड़ानों का सुचारू रूप से संचालन किया जा सकेगा। इसको लेकर एयरपोर्ट पर अलग से 25 मीटर ऊंचा एटीसी टावर के निर्माण की योजना है।

25 मीटर ऊंचे टावर में रडार सहित कई अत्याधुनिक उपकरण लगेंगे
360 डिग्री में एटीसी अधिकारी व कर्मी देख सकेंगे उड़ानों का संचालन
23 करोड़ रुपये होगा निर्माण पर खर्च, उड़ानों के संचालन में होगी आसानी

एएआइ के वरीय अधिकारी ने बताया कि एटीसी टावर का निर्माण एयरपोर्ट परके बीचोबीच कराया जा रहा है। टावर के ऊपरी हिस्से में एटीसी कर्मियों के बैठने की व्यवस्था होगी। एटीसी कर्मी 360 डिग्री में उड़ानों का संचालन देख सकेंगे। टावर में काम्युनिकेशन, नेविगेशन और सर्विलांस के अत्याधुनिक उपकरण लगाए जाएंगे। इससे हर मौसम व परिस्थिति में निर्बाध रूप से उड़ानों का संचालन किया जा सकेगा।

Leave a comment

Your email address will not be published.