0Shares

बारिश के मौसम के ठीक बाद ही पटना से कोइलवर तक करीब 24 किमी लंबाई में एलिवेटेड रोड (Patna-Koilwar Elevated Road)का निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा। 2024 तक यह निर्माण कार्य पूरा कर इस मार्ग से आवागमन भी शुरू कर दिया जाएगा।

इस सड़क के डीपीआर को मंजूरी मिल चुकी। सड़क निर्माण के लिए निर्माण एजेंसी का चयन टेंडर के माध्यम से जुलाई में किया जाना है। इस सड़क के निर्माण के लिए केंद्र सरकार ने करीब चार हजार करोड़ रुपये की मंजूरी दी है।

Patna-Koilwar Elevated Road

Also Read : लंबा इंतजार हुआ खत्म, अब गांधी सेतु पर टेंशन फ्री दौड़ेंगी गाड़ियां, हाजीपुर से पटना महज 15 मिनट में

 

Patna-Koilwar Elevated Road : बिहटा और कोइलवर के बीच करीब चार किमी लंबी एलिवेटेड सड़क की मंजूरी

बता दें कि इस सड़क के बनने से पटना, भोजपुर, बक्सर, रोहतास, कैमूर, अरवल और औरंगाबाद आने-जाने वालों को सीधा फायदा होगा। मिली जानकारी के अनुसार पहले दानापुर से बिहटा तक करीब 20 किमी लंबाई में एलिवेटेड सड़क बनाने की योजना थी। बाद में बिहटा और कोइलवर के बीच करीब चार किमी लंबी एलिवेटेड सड़क की मंजूरी केंद्र सरकार ने दी है।

यह बिहटा एयरपोर्ट के पास का इलाका है। अब नयी सड़क बनने से इस सड़क की कनेक्टिविटी फोरलेन कोइलवर-भोजपुर और भोजपुर-बक्सर सड़क से हो जायेगी। वहीं, सोन नदी पर कोइलवर के सिक्सलेन पुल से होकर आवागमन शुरू हो चुका है। कोइलवर-भोजपुर सड़क करीब 44 किमी लंबाई में अक्टूबर 2022 तक और भोजपुर से बक्सर 48 किमी की लंबाई में दिसंबर 2022 तक निर्माण पूरा होने की संभावना है।

बक्सर से हैदरिया तक फोरलेन सड़क बनाने के लिए डीपीआर दिसंबर 2022 तक बन जायेगा। इस सड़क को पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे से जोड़ा जायेगा। इस तरह करीब तीन साल में पटना-कोइलवर एलिवेटेड सड़क (Patna-Koilwar Elevated Road) से होकर सीधा पूर्वांचल एक्सप्रेस होकर दिल्ली तक जाने का बेहतर मार्ग मिल सकेगा। वहीं, इस सड़क से आरा रिंग रोड को भी जोड़ने की योजना है। यह करीब 21 किमी लंबाई में बनेगा। इसमें 381 करोड़ की लागत आएगी।

Leave a comment

Your email address will not be published.