0Shares

Rajgir Tourism : बिहार के सबसे बड़े पर्यटन स्थल का दर्जा प्राप्त राजगीर में विदेशी पर्यटकों के लिए इंटीग्रेटेड भवन का निर्माण किया जा रहा है। गौरतलब है कि राजगीर में पर्यटकों की सुविधाओं लिए कई कदम उठाए जा रहे हैं। इसी क्रम में राजगीर के विश्व शांति स्तूप एवं रोप-वे के नजदीक पर्यटकों के लिए और भी बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। यहां आने वाले देशी और विदेशी पर्यटकों के लिए इंटीग्रेटेड भवन का निर्माण इन दिनों चल रहा है।

राजगीर (Rajgir Tourism) में दोनों रोप-वे के बेस स्टेशन के नजदीक इंटीग्रेटेड भवन का निर्माण किया जा रहा है। इस इंटीग्रेटेड भवन में एक ही जगह पर शॉपिंग से लेकर खाने-पीने तक की तमाम सुविधाएं होगी। इंटीग्रेटेड भवन में सैलानियों के लिए रेस्टोरेंट, फूड कोर्ट, दुकानें जैसी सुविधा होंगी। इसके साथ ही महिला और पुरुष के लिए शौचालय, लिफ्ट, रैंप व पार्किंग की सुविधा रहेगी।

Rajgir Tourism

Rajgir Tourism : राज्य सरकार के द्वारा शांति स्तूप के नजदीक कई पर्यटकीय संरचनाओं का निर्माण

पर्यटन विभाग के प्रधान सचिव संतोष कुमार मल्ल न कहा कि नालंदा जिले का विश्व शांति स्तूप महत्वपूर्ण अंतरराष्ट्रीय पर्यटन स्थल है। राज्य सरकार के द्वारा शांति स्तूप के नजदीक कई पर्यटकीय संरचनाओं का निर्माण पिछले सालों में किया गया है। पर्यटन विभाग की ओर से यहां आने वाले सैलानियों को सुधार के लिए नई रोपवे का अधिष्ठापन किया गया, जिसमें कुल 20 करोड़ 18 लाख रुपए खर्च हुए हैं।

बता दें कि यहां आने वाले पर्यटकों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए विश्व शांति स्तूप पर रज्जू मार्ग एवं उसके नजदीक सौंदर्यीकरण और पर्यटन सुविधाओं को बढ़ाने हेतु नई योजना को स्वीकृत किया गया है, जिसमें 16 करोड़ 38 लाख की राशि आवंटित होनी है। विभाग की इस योजना को जमीनी रूप से बिहार सरकार के पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग के द्वारा जिला प्रमण्डल पदाधिकारी के सहयोग से किया जाएगा। पर्यटन विभाग के द्वारा जरूरी राशि जिला वन प्रमण्डल पदाधिकारी को विमुक्त करने की मंजूरी दी जा चुकी है।

Leave a comment

Your email address will not be published.