0Shares

सीमांचल में शराब के साथ शबाब की भी होम डिलीवरी हो रही है। रेड लाइट एरिया में पुलिस की लगातार छापेमारी के बाद जिस्म के सौदागरों ने यह नया तरकीब अपनाया है। हाल में पुलिस की दो बड़ी कार्रवाई के बाद यह साफ हो गया है कि इसके तार मुंबई व कोलकाता तक से जुड़े हैं। पुलिस ने हाल में मुंबई की एक महिला को गिरफ्तार भी किया था। एक अन्य कार्रवाई में सिलीगुड़ी की एक महिला यहां आठ लड़कियों की फौज शिफ्ट कर चुकी थी।

दो दिन पूर्व पूर्णिया शहर के रामबाग मोहल्ले के एक घर से आठ लड़कियां बरामद हुई। उसके साथ पुलिस ने रामबाग के एक लड़के को भी गिरफ्तार किया। लड़के ने पूछताछ में बताया कि वह बाहर से लड़कियों को यहां तक लाने का कार्य करता है। वह सिलीगुड़ी की एक महिला के लिए काम करता है। इसके लिए उसे पैसे मिलते हैं। वह पैसे की लालच में यह कार्य कर रहा था। यहां का कार्य दूसरा व्यक्ति संभालता है।

यहां से लड़कियों को बाहर कहां कहां भेजा जाता है, यह उसे पता नहीं। यद्यपि उसने यह स्वीकार किया कि लड़कियां होटल के साथ-साथ ग्राहक के डिमांड वाले स्थान पर भेजी जाती है। जानकारी के अनुसार यहां से लड़कियों को लेकर ग्राहक नेपाल व अन्य स्थलों पर घूमने भी जाते हैं। इस तरह का खुलासा यहां लाइन बाजार इलाके में गत वर्ष हुई छापेमारी में भी हुई थी।

कोलकाता व मुंबई तक जुड़े हैं जिस्म के सौदागरों के तार

शराबबंदी को लेकर पुलिस अधीक्षक के निर्देशानुसार पूरे जिले में विशेष अभियान जारी है। इसमें पुलिस को रिकार्ड उपलब्धि भी मिली है। जिस्मफरोशी को लेकर लगातार छापेमारी जारी है। रेडलाइट एरिया में छापेमारी कर गिरफ्तारी की जा रही है। दो दिन पूर्व एक मोहल्ले से पुलिस ने आठ लड़कियों के साथ एक युवक को गिरफ्तार किया है। पुलिस इस रैकेट के लोगों को गिरफ्तार कर रही है। – एस के सरोज, एसडीपीओ, पूर्णिया सदर।

पुलिस की कार्रवाई से लगातार सामने आ रहे चौकाने वाले तथ्य

अक्सर छापेमारी में नाबालिग लड़कियां भी बरामद होती है। इसके लिए पुलिस के साथ चाइल्ड लाइन की टीम भी रहती है। पूछताछ में लड़कियों को समझाया भी जाता है। उसे मोटिवेट करने की कोशिश की जाती है। साथ ही पुलिस की कार्रवाई भी होती है। हाल में पुलिस को दो बड़ी उपलब्धि मिली है। – मयूरेश गौरव, समन्वयक, चाइल्ड लाइन।

Leave a comment

Your email address will not be published.