0Shares

बिहार के नौकरीपेशा लोगों के राशन कार्ड रद्द किए जायेंगे। सर्किट हाउस में पोषाहार की समीक्षा के बाद पत्रकारों से बातचीत के दौरान बिहार राज्य खाद्य आयोग के अध्यक्ष विद्यानंद विकल ने यह जानकाई दी। पत्रकारों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि जिले में तीन सौ डीलरों की जल्द बहाली होगी। अनुकंपा पर 19 डीलरों की नियुक्ति की गई है। जिले में 1291 डीलर हैं। ग्रामीण क्षेत्र में 19 सौ ग्रामीणों पर एक डीलर और शहरी क्षेत्र में 13 सौ आबादी पर एक डीलर होनी चाहिए।

राशन कार्ड

Also Read : सावधान: बिहार में बड़ी संख्‍या में राशन कार्ड होगा रद्द, जानिए आपका भी होगा या नहीं

राशन कार्ड में फर्जीवाड़ा रोका जाएगा

अध्यक्ष ने कहा कि राशन कार्ड में फर्जीवाड़ा रोका जाएगा। इस दौरान उन्होंने बताया कि भागलपुर जिला अनाज के वितरण के मामले में पूरे राज्य में दूसरे नंबर पर आता है। राशन का वितरण यहां पर सही और सुचारू ढंग से होता है। वह इस दौरान अध्यक्ष ने राशन कार्ड के फर्जी मामलों को रोकने के मुद्दे पर भी बात की। उन्होंने कहा कि सभी फर्जी राशन कार्ड को जल्द ही रद्द कर दिया जाएगा। जिनकी मृत्यु हो गई है, उनके राशन कार्ड रद्द कर दिए जायेंगे। जो सरकारी नौकरी कर रहे है या रिटर्न दाखिल भर रहे हैं, ऐसे लोगों का भी राशन कार्ड रद्द होगा।

उन्होंने आगे बताया कि जो लोग परिवार से अलग होकर राशन कार्ड बनवाने के लिए आवेदन कर रहे हैं, उनका कार्ड भी बनाया जाएगा। इसमें वह लड़की भी शामिल है, जिसकी शादी हो गई है और ससुराल में रह रही है। इस दौरान उन्होंने एसएफसी के जर्जर गोदाम को लेकर भी बात की। उन्होंने कहा कि ये गोदाम 5000 टन की क्षमता का है। इसकी जल्द से जल्द मरम्त हो। फिलहाल अनाज को सुरक्षित रखने के लिए अलग से गोदाम बनाने की सलाह दी। बता दे उन्होंने सभी गोदामों पर धर्मकांटा लगाने के भी निर्देश दिए हैं, ताकि कम अनाज मिलने की शिकायत को दूर किया जा सके।

Leave a comment

Your email address will not be published.