0Shares

इलेक्ट्रिक कारो, इलेक्ट्रिक स्कूटरों और इलेक्ट्रिक बसों के बाद सरकार जल्द ही इलेक्ट्रिक ट्रैक्टर और ट्रकों को लॉन्च करने वाली है। महाराष्ट्र के पुणे में वसंत दादा चीनी संस्थान में आयोजित राज्यस्तरीय चीनी सम्मेलन 2022 कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने यह जानकारी दी है। साथ ही उन्होंने देश को एथेनॉल और मेथनॉल जैसे वैकल्पिक स्त्रोतों के उपयोग करने की बात कही।

इलेक्ट्रिक ट्रैक्टर
आगे केंद्रीय मंत्री ने कहा कि एथेनॉल और मेथनॉल जैसे वैकल्पिक ईंधन स्त्रोतों के साथ साथ इलेक्ट्रिक ही भारत का भविष्य है। मुझे याद है जब मैंने 3 साल पहले इलेक्ट्रिक व्हीकल की बात कही थी। तब लोगों ने काफी सवाल पुछे थे। कैसे संभव होगा? लेकिन अब इन्ही ई वाहनों की डिमांड बढ़ी हैं। लोग अब इन ई वाहनों के इंतज़ार में हैं।

Also Read : Nitin Gadkari : आंधी की वजह से गिरा पुल, नितिन गडकरी ने बयान को बताया आश्चर्यजनक

इलेक्ट्रिक ट्रैक्टर की मांग तेज

अंतरष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दामों की बढ़ोतरी के कारण बाजार में अब ई वाहनों की मांग तेज है। पेट्रोल डीजल की कीमत दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है, जिससे आम आदमी से लेकर औद्योगिक कार्य भी काफी प्रभावित हो रहे हैं। इनकी बढ़ती कीमतों की वजह से महंगाई कम होने का नाम ही नही ले रही हैं।

इलेक्ट्रिक ट्रैक्टर

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कई बार अपने भाषणों में कहा है कि हमें पेट्रोल डीजल पर अपनी निर्भरता छोड़नी होगी भविष्य में इनके दामों में कमी के कोई आसार नही हैं। इसके लिए भारत सरकार ने कुछ जरूरी कदम भी उठाए हैं। देश मे चीनी के निर्यात को बैन करके, गन्ने की मदद से शुगर मिलो में एथेनॉल तैयार की जा रही है। धीरे धीरे इस इथेनॉल और मेथनॉल को पेट्रोल और डीजल से रिप्लेस कर दिया जाएगा।

Also Read : बड़े भाई से सम्बोधित कर डिप्टी सीएम रेणु देवी ने नितिन गडकरी के सामने रखी दी अपनी ऐसी मांग

Leave a comment

Your email address will not be published.