0Shares

Indian Railway : इंडियन रेलवे के आधुनिकीकरण एवं लोगों की सुविधा के अनुरूप ढालने के लिए लगातार नई योजनाएं बनाई जा रही हैं। कई योजनाएं पूरी हो चुकी है तो कई योजनाओं पर काम चल रहा है। वहीं कई बड़े रेलवे स्टेशन को वर्ल्ड क्लास बनाने की कवायद भी जारी है। भोपाल का रानी कमलापति स्टेशन इसका एक उदाहरण है। इसके अलावा बेंगलुरु में देश का पहला एयर कंडीशन रेलवे स्टेशन बना है, जिसे भारत के पहले सिविल इंजीनियर और भारत रत्न सम्मानित सर एम. विश्वेशवरैय्या के नाम से रखा गया है।

Indian Railway

Indian Railway : नए टर्मिनल में एक फुटओवर ब्रिज और दो सब-वे भी

बता दें कि इस नए टर्मिनल में एक फुटओवर ब्रिज और दो सब-वे भी हैं। इसके अलावा इसमें एस्केलेटर्स और लिफ्ट्स की भी सुविधा है। वीआईपी लाउंज की भी व्यवस्था है, जहां यात्री अपनी ट्रेन का इंतजार कर सकते हैं। यहां से 50 हज़ार लोगों तक की आवाजाही आसानी से हो सकेगी।

इस टर्मिनल के निर्माण में 314 करोड़ की लागत आई है। ये टर्मिनल 4200 वर्ग मीटर में फैला है। यहां से रोज़ाना 50 ट्रेन चलती हैं। यहां एक शानदार फूड कोर्ट भी बनाया गया है,जहां लोग अपना मनपसंद खाना और नाश्ता कर सकते हैं।
सर एम विश्वेश्वरय्या टर्मिनल पर 7 प्लेटफॉर्म बनाए गए हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.