0Shares

Indian Railway : रेलवे की बहुप्रतीक्षित परियोजना में सम्मिलित मुजफ्फरपुर-सुगौली रेलवे लाइन दोहरीकरण के लिए भूमि का अभीग्रहण कार्य संपन्न कर लिया गया है।

Llइस संबंध में जिला भू-अर्जन दफ़्तर ने 20 मई को आरंभिक विज्ञप्ति तैयार की गयी। उसे 25 मई को जनहित में जारी करवाया गया है। अधिसूचना के अनुसार, कांटी प्रखंड नोटिफिकेशन 7, मोतीपुर अंतगर्त चार एवं मीनापुर ब्लॉक के अधीन एक गांव के भूमि को मुजफ्फरपुर-सुगौली रेलवे लाइन के दोहरीकरण के हेतु अभीग्रहण करवाया गया है।

Indian Railway

Indian Railway : भूमि अभीग्रहण के बाद के प्रभाव इत्यादि को लेकर रिपोर्ट तैयार

गत फरवरी में इस संबंध में निरीक्षण कराया गया था। भूमि अभीग्रहण के बाद के प्रभाव इत्यादि को लेकर रिपोर्ट तैयार की गई थी। उसमे कहा गया था कि यह काम जनहित में है। इससे जिले में पर्यटन और उद्योग को बढ़ावा मिलेगा। इसके साथ ही कांटी, मीनापुर एवं मोतीपुर के 12 गांवों से सटे इलाकों के लोगों को भी ज्यादा सुविधा मिल सकेगी। कहा यह भी गया है कि जितना भी भूमि अभीग्रहण करवाया गया है, इसके हितधारकों के भूमि का रकबा बेहद कम है।

रेल प्रोजेक्ट से परिचालन में अच्छा करने एवं एरिया को नई दुनिया के सामने आरंभ करने में निश्चत तरीके पर सहायता मिलेगी। पहले लोगों को मुजफ्फरपुर इत्यादि रेलवे स्टेशनों पर जाकर भिन्न भिन्न जगहों के लिए ट्रेन पकड़ने हेतु कई घंटों का करना पड़ता, परंतु अब मोतीपुर के समीप रेलवे स्टेशन हो जाने से ये इंतजार कम हो जाएगा। इस एरिया के लोग, विशेष कर गरीब एवं असुरक्षित सिचुएशन वाले लोग जीविका की तलाश में नेपाल एवं राज्य के अंदर-बाहर की दूसरी जगह पर जा सकेंगे।

रिपोर्ट के अनुसार, नयी हाजीपुर-सुगौली रेलखंड निर्माण से मुजफ्फरपुर-सुगौली रेलवे लाइन पर जाम की समस्या बढ़ेगी। इसके लिए विद्युतीकरण के साथ ही प्रस्तावित दोहरीकरण सुगम कार्य परिचालन एवं रेलखंड की कैपेसिटी में सुधार के हेतु कार्य परिचालन के व्यू-प्वाइंट से उचित ठहराया था।

Leave a comment

Your email address will not be published.