0Shares

Indian Railways : बिहार में पिछले दिनों केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना के खिलाफ काफी उग्र प्रदर्शन देखा गया। इसके चलते आम लोगों को काफी परेशानियों का भी सामना करना पड़ा। प्रदर्शनकारियों के उग्र प्रदर्शन के चलते बिहार में पिछले 4 दिनों से रेल परिचालन बंद था। हालांकि, मंगलवार से कई ट्रेनों का परिचान पुनः शुरू किया गया है। अग्निपथ योजना को लेकर चल रहे विरोध के कारण रेल परिचालन ठप था। इसी बीच पूर्व मध्य रेलवे ने रेल यात्रियों के लिए एक राहत भरी खबर दी है। दरसल सोमवार को राजेन्द्र नगर टर्मिनल से प्रस्थान करने वाली दिल्ली तेजस राजधानी एवं संपूर्ण क्रांति एक्सप्रेस खुलेगी।

सोमवार को इन दोनों ट्रेनों का परिचालन दिल्ली के लिए किया जाएगा। दरअसल शुक्रवार के दिन से ही ये दोनों ट्रेनें बन्द थी। राजेंद्रनगर से नई दिल्ली को जाने वाली गाड़ी संख्या 12309 राजधानी एक्सप्रेस और 12393 संपूर्णक्रांति एक्सप्रेस सोमवार को रात 8 बजे के बाद चलाई जाएगी। इसकी जानकारी सीपीआरओ वीरेंद्र कुमार ने दी है।

Indian Railways

Also Read : East Central Railway : उग्र प्रदर्शन थमने के बाद पूर्व मध्य रेलवे ने बिहार में पुनः बहाल की ट्रेन सेवा

Indian Railways : अभी तक 348 ट्रेनों को रद्द किया गया

आपको बता दें कि भारत बंद को लेकर पटना जंक्शन समेत पूर्व मध्य रेल के अधिकतर स्टेशनों पर सोमवार को भारी अलर्ट की स्थिति रही। जानकारी के मुताबिक अभी तक 348 ट्रेनों को रद्द किया गया है। दानापुर, पटना जंक्शन , राजेन्द्र नगर, पाटलिपुत्र जंक्शन व अन्य प्रमुख स्टेशनों पर भारी संख्या में आरपीएफ, जीआरपी और स्थानीय पुलिस के जवानों की तैनाती की गई थी। रेलवे प्लेटफॉर्म से लेकर सर्कुलेटिंग एरिया तक हर जगह जवान सघन चौकसी करते देखे गये। वहीं पटना जंक्शन पर जोन के आलावा सुरक्षा अधिकारी एवं रेल मंडल के एडीआरएम भी पहुंचे और आपस मे विचार विमर्श किया।

आपको बता दें कि रेलवे जोन एवं स्थानीय अधिकारियों ने मिलकर रेल परिसर को सुरक्षित बनाने में लगे हैं। हालांकि दोपहर एक बजे तक सभी जोन में कहीं से भी उपद्रव एवं प्रदर्शन की सूचना नहीं मिली। पटना जंक्शन के सर्कुलेटिंग एरिया में दंगा नियंत्रक वाहन एवं अग्निशमन सेवा की गाड़ियां लगीं है। वहीं पार्किंग में गाड़ियों की संख्या बिल्कुल न के बराबर है। हालांकि रेलवे लगातार अफवाहों से बचने के लिए यात्रियों से अपील कर रहा है।

Leave a comment

Your email address will not be published.