0Shares

Railway News : मुजफ्फरपुर जंक्शन को वर्ल्ड क्लास बनाने के लिए सरकार की तरफ से 400 करोड़ रुपये के डीपीआर की मंजूरी दे दी गई है। शनिवार को रेल भूमि विकास प्राधिकरण (आरएलडीए) के अधिकारियों की टीम ने एक बैठक के दौरान यह फैसला लिया। आगामी 22 मई को टेंडर ओपन होने के बाद इस पर काम शुरू हो जाएगा।

Railway News

गौरतलब है कि पहले दो सौ करोड़ का डीपीआर बनाया गया था, लेकिन रेल मंत्री के निर्देशानुसार एयर कानकोर्स(बड़ा ब्रिज) में बढ़ोतरी होने से इसमें 200 करोड़ रुपये और बढ़ गए।

Railway News : 108 मीटर का एयर कानकोर्स बनेगा

डीपीआर के अनुसार आरपीएफ पोस्ट के समीप छह मीटर के बने फुटओवर ब्रिज को तोड़कर हटा दिया जाएगा। वहां से पश्चिम दिशा की ओर 108 मीटर का एयर कानकोर्स बनेगा। पिछले डीपीआर में एयर कानकोर्स की लंबाई-चौड़ाई कम होने पर रेल राज्य मंत्री ने आपत्ति जताई थी, जिसके बाद इसे बढ़ाया गया है।

12 मई को पटना में प्री बीड से पहले ठेकेदारों के साथ एक बैठक होगी, जिसमें कार्य की दक्षता और गुणवत्ता के साथ समय से कार्य पूरा करने पर बात होगी। 22 जून को टेंडर ओपन का समय रखा गया है। उस दिन रेल भूमि विकास प्राधिकरण (आरएलडीए) के जीएम प्रोजेक्ट पीआर सिंह, जीएम सुनील कुमार वर्मा व मेंबर प्रोजेक्ट अंजनी कुमार सहित अन्य रेल अधिकारी मौजूद रहेंगे। टेंडर होने के बाद कार्य का शुभारंभ रेल अधिकारियों द्वारा किया जाएगा। अधिकारियों के अनुसार एयरपोर्ट बनाने वाली कंपनी को इसका टेंडर दिया जाएगा। 50 साल बाद की आबादी को ध्यान में रखते हुए इसका निर्माण होगा।

मुजफ्फरपुर जंक्शन को विश्वस्तरीय बनाने के लिए सभी एक्जिट प्वाइंट को बंद कर दिया जाएगा। सिक्यूरिटी चेक से लेकर स्कैनर मशीन तक लगाए जाएंगे। स्टेशन के एरिया में आने के बाद दो मंजिले पर वाहनों की पार्किंग होगी। एयर कानकोर्स से उतरकर यात्री प्लेटफार्म पर जाएंगे। प्लेटफार्म ग्राउंड लेवल पर ही रहेगा। स्वचालित सीढ़ी, बुजुर्ग एवं दिव्यांगों के लिए लिफ्ट आदि की व्यवस्था रहेगी। स्टेशन के आठ नंबर प्लेटफार्म के आगे बने रेलवे के 14 क्वार्टरों को तोड़कर ब्रह्मपुरा रेलवे कालोनी में शिफ्ट किया जाएगा। स्टेशन के पूर्वी साइड का ऐसा लुक बनाया जाएगा कि रेल यात्री सिटी बस से वहां उतर कर टहलते हुए सिक्यूरिटी चेक के बाद ट्रेन पकड़ेंगे।

Leave a comment

Your email address will not be published.