0Shares

Unique Marrige : छतरपुर में एक शादी के दौरान दुल्हन को दूल्हे के लिए तीन घंटे इसलिए इंतजार करना पड़ा। क्योंकि उस दिन दूल्हे का 10वीं क्लास का सोशल साइंस का एग्जाम था। दूल्हा जब पेपर देकर लौटा फिर विवाह की रस्में निभाईं गईं। मध्य प्रदेश के छतरपुर के कल्याण मंडप में बुंदेलखंड परिवार द्वारा सामूहिक विवाह सम्मेलन का आयोजन किया गया था, यहां एक साथ 11 जोड़े शादी के बंधन में बंधे।

Unique Marrige

Unique Marrige : दुल्हन ने किया दूल्हे का इंतज़ार

लेकिन एक दुल्हन हाथों में मेहंदी रचाए मंडप में अपने दूल्हे का इंतजार करती रही, दूल्हा तीन घंटे में अपनी शादी में पहुंचा। दरअसल, दूल्हा अपना 10वीं का एग्जाम देने चला गया था, इसके बाद उसने अपने जीवन में नई पारी की शुरुआत की। दूल्हे रामजी सेन ने बताया कि उन्होंने साल भर एग्जाम देने के लिए पढ़ाई की थी, उन्हें लगा कि शादी से पहले परीक्षा देना बेहद जरूरी है, इसलिए उन्होंने शादी से पहले परीक्षा देने का फैसला किया।

वहीं दुल्हन प्रीति सेन ने अपने होने वाले पति के इस व्यवहार की सराहना की उन्होंने कहा कि पढ़ाई को लेकर इतनी गंभीरता अच्छी बात है, अगर वो एग्जाम देने नहीं जाते तो उनका पूरा साल खराब हो जाता। दूल्हे रामजी का 10वीं सोशल साइंस का पेपर था, पेपर देकर तीन घंटे बाद लौटे और फिर विवाह की रस्में निभाईं, उन्होंने कहा कि आज जीवन के 2 एग्जाम हुए।

इससे पहले भी कई बार ऐसा वाकिया हुआ हैं लेकिन ये सबसे हटके हैं, पहला एग्जाम पढ़ाई का और दूसरा एग्जाम उसकी जिंदगी का, उम्मीद कर रहे हैं हमें दोनों से सफलता मिलेगी। बता दें, छतरपुर के कल्याण मंडपम में बुंदेलखंड परिवार द्वारा सामूहिक विवाह सम्मेलन का आयोजन किया गया था, यहां एक साथ 11 जोड़े विवाह बंधन में बंधे. शादी के दौरान सभी बेहद खुश थे।

Leave a comment

Your email address will not be published.