0Shares

Bihar News : पिछले कुछ दिनों से बिहार की राजनीती में काफी उथल-पूथल मचा हुआ हैं, लालू के बड़े बेटे तेज प्रताप लगातार अपने बयानबाजी से चर्चा में आ रहे हैं। तेजस्वी के इफ्तार पार्टी के बाद उन्होंने प्रदेश में तेजस्वी सरकार बनने का दावा किया था, तो बाद में उन्होंने RJD से अपने इस्तीफे का ऐलान किया। अब तेज प्रताप फिर अपने बयान से पलट गए हैं, उन्होंने अब इस्तीफा देने से इनकार किया हैं।

Bihar News

Bihar News : बिहार यात्रा का किया एलान

उनके इस्तीफा देने से पीछे हटते ही उन्होंने ऐलान किया की अब वो बिहार यात्रा शुरू करेंगे, और एक मई से जनता दरबार लगाने का फैसला करेंगे। पार्टी सूत्रों के अनुसार तेजप्रताप यादव अपने संगठन छात्र जनशक्ति परिषद के तहत यह बिहार यात्रा और जनता दरबार लगाएंगे। तेजप्रताप अपने ऊपर पार्टी युवा महानगर प्रकोष्ठ के अध्यक्ष रामराज यादव द्वारा मारपीट करने के आरोपों के बाद पिता लालू प्रसाद से मिलकर पार्टी से इस्तीफा देने की बात कही थी।

लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप आये दिन कोई ना कोई बयान दे तो रहे हैं, लेकिन पार्टी उनका सुध नहीं ले रही हैं। इसका असर पार्टी के शीर्ष नेताओं व पार्टी पर नहीं होते देख उन्होंने अब नयी राह अपनाने का फैसला लिया है। इससे पहले भी तेजप्रताप यादव यात्रा निकाल चुके हैं, लालू प्रसाद को सजा मिलने के बाद उन्होंने न्याय यात्रा निकाला था। इसके बाद जब लालू प्रसाद को जमानत मिली तब तेजप्रताप ने दावा किया था कि उनके न्याय यात्रा की वजह से ही लालू प्रसाद को जमानत मिली है।

कहा जा रहा हैं की, पिटाई कांड पर घिरने के बाद तेजप्रताप यादव ने इस्तीफा देने की धमकी दी थी। राजनीति के जानकार कहते हैं कि उनकी धमकी पर जब किसी ने ध्यान नहीं दिया तो अब वह नया पैतरा लेकर सामने आए हैं। बिहार की राजनीति को करीब से जानने वाले वरिष्ठ पत्रकार शिवेंद्र नारायण सिंह कहते हैं कि तेजप्रताप को पहले उम्मीद थी कि उनके इस्तीफे की धमकी के बाद उन्हें पार्टी और परिवार स्तर पर मनाने का प्रयास शुरू होगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

Leave a comment

Your email address will not be published.