0Shares

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 23 साल तक भारत का प्रतिनिधित्व कर चुकी भारतीय महिला क्रिकेट टीम की वनडे और टेस्ट कप्तान मिताली राज ने बुधवार को क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास लेने का ऐलान कर दिया. मिताली काफी आरसे तक टीम इंडिया की कप्तान रहीं है, वह दुनिया की इकलौती पुरुष/ महिला क्रिकेटर हैं जिनका वनडे करियर 22 साल 274 दिन का रहा. इस मामले में उन्होंने सचिन को भी पीछे छोड़ दिया. मिताली ने कहा, ‘अब समय आ गया है कि युवा जिम्मेदारी उठाएं.’

मिताली राज ने संन्यास का ऐलान करते हुए सोशल साइट इंस्टाग्राम पर लिखा. ‘मैं भारत की नीली जर्सी पहने की यात्रा पर निकली थी. क्योंकि अपने देश का प्रतिनिधित्व करना सबसे ब़ड़ा सम्मान होता है. इस यात्रा में कुछ उतार-चढ़ाव रहे. प्रत्येक क्षण ने मुझे कुछ नया सिखाया. पिछले 23 साल मेरे जीवन के सबसे संतोषजनक, संघर्षपूर्ण और आनंददायक रहे.’

मिताली ने आगे लिखा, ‘सभी यात्राओं की तरह इसका भी अंत होना था. यह वो दिन है जब मैं अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास का ऐलान करती हूं.’

मिताली राज

मिताली राज ने बीसीसीआई सचिव जय शाह को भी धन्यवाद दिया

मिताली ने लिखा, ‘मुझे लगता है यह मेरे लिए संन्यास लेने का परफेक्ट समय है. टीम सुरक्षित हाथों में है. टीम में कई युवा प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं. भारतीय महिला क्रिकेट टीम का भविष्य उज्जवल है. अब समय आ गया है कि युवा खिलाड़ी जिम्मेदारी संभालें. मैंने टीम का काफी समय तक नेतृत्व किया जो मेरे लिए सम्मान की बात है. इसके जरिए मुझे पहचान मिली.’ इसके अलावा मिताली ने बीसीसीआई सचिव जय शाह को भी धन्यवाद दिया.

मिताली राज ने भारत के लिए 12 टेस्ट मैचों में 699 रन बनाए, टेस्ट में उनके नाम 1 शतक और 4 अर्धशतक है. क्रिकेट के सबसे बड़े फॉर्मेट में उनका बेस्ट स्कोर 214 रन रहा. वह टेस्ट में सबसे कम उम्र में दोहरा शतक लगाने वाली पहली महिला क्रिकेटर हैं. मिताली 232 वनडे मैचों में टीम इंडिया का प्रतिनिधित्व कर चुकी है जिनमें उन्होंने 7805 रन बनाए. एकदिवसीय क्रिकेट में उनके नाम 7 शतक और 64 अर्धशतक है.

वह वनडे में सबसे ज्यादा रन बनाने वाली दुनिया की पहली महिला क्रिकेटर हैं. वनडे में उनका सर्वोच्च स्कोर 125 रन नाबाद रहा. इसके अलावा मिताली का ने टी-20 इंटरनेशनल में भी खूब कमाल दिखाया. उन्होंने 89 टी-20 मैचों में 2364 रन बनाए. क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट में मिताली ने 17 अर्धशतक लगाए है. टी-20 अंतरराष्ट्रीय में उनका सर्वोच्च स्कोर 97 रन नाबाद रहा.

Leave a comment

Your email address will not be published.