0Shares

दिग्गज क्रिकेटर्स की लिस्ट में शामिल वीरेंद्र सहवाग ने अपने क्रिकेट करियर की शुरूआत वर्ष 1997 में दिल्ली क्रिकेट टीम से की थी। वर्ष 1998 में वे नार्थन जॉन क्रिकेट टीम में दलीप ट्रॉफी के लिए सिलेक्ट हुए थे। इस ट्रॉफी के मैच के दौरान उन्होंने टॉप स्कोरर में अपना स्थान बनाया। इसके बाद उन्होंने रणजी ट्रॉफी में भी जबरदस्त प्रदर्शन दिखाया था और फिर उन्हें अंडर-19 टीम में शामिल किया गया था। वर्ष 1999 में पाकिस्तान के खिलाफ उन्हें पहली बार भारतीय टीम के लिए खेलने का मौका मिला था।

वीरेंद्र सहवाग

वीरेंद्र सहवाग अपने प्यार आरती को पहली बार तब मिले थे जब वह सिर्फ 7 वर्ष के थे

वीरेंद्र सहवाग अपने प्यार आरती को पहली बार तब मिले थे जब वह सिर्फ 7 वर्ष के थे और आरती 5 वर्ष की थी। सहवाग ने आरती को पहली बार जब प्रोपोज किया तब वह सिर्फ 21 साल के थे। आरती की बड़ी बहन ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया था कि, सहवाग और आरती की लव मैरिज थी। इसके बाद भी दोनों ने करीब 3 साल तक डेटिंग की और फिर 2004, अप्रैल में शादी के बंधन में बंध गए थे।

वीरेंद्र सहवाग की पत्नी आरती अहलावत शादी के पहले उनकी रिश्तेदार थी। दरअसल 1980 के दशक में वीरेंद्र सहवाग के चचेरे भाई की शादी जिस लड़की से हुई थी वह आरती अहलावत की बुआ थी। इस तरह आरती और सहवाग के बीच रिश्तेदारी शुरू हुई थी। सहवाग और आरती की शादी फैमिली में हुई थी। इस शादी के बाद वीरेंद्र और आरती की बुआ के बीच देवर-भाभी का रिश्ता हो गया।

बता दे वर्ष 2004 में वीरेंद्र सहवाग और आरती की शादी हुई थी। आरती और वीरेंद्र सहवाग दो बच्चों आर्यवीर और वेदांत के माता-पिता हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि, सहवाग की शादी बीजेपी के पूर्व दिग्गज नेता अरुण जेटली के सरकारी बंगले में हुई थी। वर्ष 2002 में वीरेंद्र सहवाग ने मजाक में आरती से शादी के लिए कहा था और आरती ने बड़ी गंभीरता के साथ इसका जवाब दिया और शादी के लिए हां कर दी थी।

Leave a comment

Your email address will not be published.