0Shares

Bihar News : बिहार के पूर्णिया जिले में देश का पहला और सबसे बड़ा इथेनॉल प्लांट बनने जा रहा हैं, ऐसे में पूर्णिया के लिए ये उद्योग क्षेत्र की सबसे बड़ी सौगात कही जा रही हैं। इस प्लांट के चलते कई लोगों को रोजगार की संधी उपलब्ध होने वाली हैं, आपको बता दे की ये इथेनॉल प्लांट 105 करोड़ की लागत से बनाया गया हैं। जिसका उद्घाटन शनिवार को प्रदेश के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के हाथों किया गया, जो पूर्णिया स्थित हैं।

Bihar News

Bihar News : देश का पहला सबसे बड़ा प्लांट

आपको बता दे की केंद्र और राज्य में बनी इथेनॉल पॉलिसी 2021 के बाद का यह पहला सबसे बड़ा देश का प्लांट हैं। ईस्टर्न इंडिया बायोफ्यूल्स प्राइवेट लिमिटेड द्वारा 105 करोड़ की लागत से इथोनॉल प्लांट का उद्घाटन किया गया। यहां रोजाना 65 हजार लीटर की क्षमता से इथेनॉल का उत्पादन होगा। बिहार के इस बड़े मौके के दिन प्रदेश के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ ही बिहार सरकार के उद्योग मंत्री BJP के शाहनवाज हुसैन साथ थे।

इसके अलावा बिहार सरकार की खाद्य एवं उपभोक्ता मंत्री लेसी सिंह और स्थानीय सांसदों के साथ ही विधायक भी मौजूद थे। उद्घाटन के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मौजूद मंत्रियों के साथ प्लांट का भ्रमण किया जिसके बाद पौधरोपण भी किया। आपको बता दे की इस प्लांट से बिहार समेत देश को भी काफी फायदा होने वाला हैं।

सबसे पहले यह जान लें कि इस प्लांट से प्रतिदिन 27 टन DDGS यानी एनिमल फीड बनाने के लिए जो पोषक तत्व से पूर्ण कच्चे माल की जरूरत होती है उसका उत्पादन बायप्रोडक्ट के रूप में होगा। इस प्लांट में प्रतिदिन करीब 150 टन चावल या मक्के की जरूरत होगी, जो यहां के किसानों के लिए फायदेमंद होगा। क्योंकि इतनी बड़ी खपत के लिए किसानों को बिक्री करने के लिए स्थाई स्थान मिलेगा। गौरतलब है कि 2021 में बने इथेनॉल नीति के बाद भारत को ये पहला प्लांट मिला है। इसके बाद और भी अन्य प्लांट की तैयारी चल रही है।

Leave a comment

Your email address will not be published.